आने वाले समय में ये नई राजनीति ही 21वी सदी के भारत का निर्माण करेगी - अरविंद केजरीवाल
50 दिल्ली के निमार्ताओं के मौजूदगी में अरविंद केजरीवाल ने ली मुख्यमंत्री की शपथ
दिल्ली के विकास में योगदान दे रहे लोगों को मुख्यमंत्री के मंच पर दी गई जगह
पूरी दिल्ली वालों और केंद्र सरकार के साथ मिलकर करेंगे दिल्ली का विकास - रविंद केजरीवाल

नई दिल्ली । आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली के निर्माताओं की मौजूदगी में तीसरी बार दिल्ली के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली। दिल्ली ने विकास में योगदान देने वाले 50 लोगों को मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के मंच पर जगह दी गई। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने पूरी दिल्ली वासियों के आभार जताते हुए कहा कि अगले 5 साल अब आप सभी लोगों के साथ मिलकर काम करेंगे। केंद्र सरकार के साथ भी मिलकर काम करेंगे। विधानसभा चुनाव में हुई यह जीत मेरी नहीं है। यह जीत 2 करोड़ दिल्ली वासियों की है। दिल्ली के एक एक परिवार की जीत है। पिछले 5 साल हमने दिल्ली के एक एक परिवार में खुशहाली लाने का प्रयास किया। अब अगले 5 साल भी हम पूरे दिल्ली वालों के साथ मिलकर दिल्ली का तेजी से विकास करेंगे। दिल्ली के लोगों ने नई तरह की राजनीति को जन्म दिया है। आने वाले समय में यही राजनीति 21 वीं सदी के भारत का निर्माण करेगी। अरविंद केजरीवाल ने कहा कि सबसे पहले, आपको बहुत बहुत धन्यवाद दिल्ली। आप सभी के आशीर्वाद से ही दिल्ली का ये बेटा लगातार तीसरी  बार सीएम बना है। यह मेरी जीत नहीं है। एक एक दिल्ली वालों की जीत है। एक एक माँ की जीत है। एक एक बहन की जीत है। एक एक युवा की जीत है। एक एक विद्यार्थी की जीत है। दिल्ली के एक एक परिवार वालों की जीत है। पिछले 5 सालों में हमारी यही कोशिश रही है कि किस तरह से हम एक एक दिल्ली वाले को, दिल्ली के एक एक परिवार की जिंदगी में खुशहाली ला सकें। एक एक दिल्ली वाले की जिंदगी में राहत ला सकें। पिछले 5 साल में हम लोगों की यही कोशिश रही है कि किस तरह से दिल्ली का खूब तेजी से विकास हो। अगले पांच साल आगे भी यही कोशिश जारी रहेगी।


अब मैं सभी का मुख्यमंत्री हूँ, सबका काम करूंगा-  
केजरीवाल ने कहा कि आप सब लोग अपने अपने गांव में फोन कर देना। हमारा बीटा अब सीएम बन गया है। अब चिंता की कोई बात नहीं है। अभी चुनाव हुए। कुछ लोगों ने आम आदमी पार्टी को वोट दिया। कुछ लोगों ने बीजेपी को वोट दिया। कुछ लोगों ने कांग्रेस को और कुछ लोगों ने अन्य पार्टियों को वोट दिया। लेकिन आज  जब मैंने मुख्यमंत्री का शपथ लिया। आज से मैं सभी का मुख्यमंत्री हूँ।  मैं आम आदमी पार्टी वालों का मुख्यमंत्री हूँ। मैं बीजेपी वालों का भी मुख्यमंत्री हूँ। मैं कांग्रेस वालों का भी मुख्यमंत्री हूँ। मैं दूसरी पार्टी वालों का भी मुख्यमंत्री हूं पिछले 5 साल जब मैंने काम किया। मैने कभी किसी के साथ सौतेला व्यवहार नहीं किया। मैने कभी यह कह कर किसी का काम नहीं रोका कि तुम बीजेपी वाले हो तुमने मुझे वोट नहीं किया, तुम्हारा काम नहीं करूंगा। बीजेपी वाला आया, कांग्रेस वाला आया या दूसरी पार्टी वाला आया, मैने सबके काम किये। मुझे पता चला यह मोहल्ला बीजेपी वालों का है। मैने वहां भी गालिया, सड़के बनवाई। वहां भी पाइप लाइन डलवाई। और सबके किये काम किया । आने वाले 5 साल के अंदर भी आज मै सारे दिल्ली के 2 करोड़ वासियों, को यह कहना चाहता हूँ कि आप सारे दिल्ली के 2 करोड़ लोग मेरा परिवार हो। आप चाहे जिस किसी भी पार्टी के हो। आप मेरे परिवार का हिस्सा हो। कभी भी कुछ भी काम हो। बेहिचक मेरे पास आ जाना, सबका काम करूंगा। चाहे कोई किसी पार्टी का हो, चाहे किसी धर्म का हो, चाहे किसी जाति का हो, चाहे अमीर हो, चाहे गरीब हो। हमें दिल्ली के लिए बहुत बड़े बड़े काम करने हैं। मैं अकेला नहीं  कर सकता। आप 2 करोड़ लोगों के साथ मिलकर दिल्ली को अच्छी बनाएंगे, खूबसूरत बनाएंगे। मैं 2 करोड़ दिल्ली वालों के साथ मिलकर काम करना चाहता हूँ। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि चुनाव खत्म हो गए। चुनाव में खूब राजनीति होती है, हुई राजनीति। किसीने किसी को कुछ कहा, किसी ने किसी को कुछ कहा। हमारे विरोधियों ने हमको जो कुछ भी बोला, हमने उनको आम माफ कर दिया। मैं उनसे भी निवेदन करता हूँ,जो कुछ राजनीतिक उठा पटक हुई चुनाव में, उन सबको भूल जाओ। अब मैं सारी पार्टियों के साथ मिलकर काम करना चाहता हूँ। मैं केंद्र सरकार के साथ भी काम करना चाहता हूँ। दिल्ली को नम्वर वन देश बनाना चाहते हैं। हम केंद्र सरकार साथ मिलकर काम करेंगे। मैने इस कार्यक्रम के लिए प्रधानमंत्री जी को भी न्योता भेजा था। वो शायद व्यस्त हैं किसी कार्यक्रम में,वो आ नहीं पाए। मैं आज इस मंच से प्रधानमंत्री से अनुरोध करता हूँ कि दिल्ली को आगे ले जाने और सम्पूर्ण विकास करने के लिए उनका भी आशीर्वाद  चाहता हूँ। दिल्ली वालों आप लोगों देश के अंदर एक नई राजनीति को जन्म दिया है। एक नई राजनीति शुरू हुई है। काम की राजनीति, स्कूल की राजनीति, 24 घंटे बिजली की राजनीति, सस्ती बिजली की राजनीति, पानी की राजनीति, अच्छी सड़कों की राजनीति, महिलाओं की सुरक्षा की राजनीति, एक अच्छी राजनीति देश के अंदर शुरू की है। अरविंद केजरीवाल ने कहा पूरे देश के लोग पूछ रहे हैं कि हमने ये कैसे कर लिया? कि कैसे कोई एक ही पार्टी बार बार 90 परसेंट से ज़्यादा सीटें जीत गई? दिल्ली में ये कैसे हुआ? ये इसलिए हुआ क्योंकि आप सब ने, पूरी दिल्ली ने मिल कर सबको बता दिया कि अब दिल्ली की राजनीति बदल रही है,वक़्त आ गया है नयी राजनीति का। ये नयी राजनीति है काम की राजनीति। इस नयी राजनीति में सरकार वही फैसले लेती है जो लोगों के हित में हो, जिससे राष्ट्र का निर्माण हो।

 

राष्ट्र निर्माण ऐसा हो जिससे हमारा अमर तिरंगा शान से आसमान में लहराए।

जब भारत माँ का हर बच्चा अच्छी शिक्षा पायेगा,
जब भारत के हर बन्दे को अच्छा इलाज मिल जाएगा,
जब सुरक्षा और सम्मान महिलाओं में आत्मविश्वास जगायेगा,
जब हर नौजवान के माथे से बेरोज़गार का तमगा हट जाएगा,
तभी अमर तिरंगा शान से आसमान में लहराए।
जब किसान का पसीना उसके घर में खुशाली लेकर आएगा,
जब हर भारतवासी जीवन की मूलभूत सुविधाएं पाएगा,
जब धर्म-जाति से उप्पर उठ कर हर भारतवासी भारत को आगे बढ़ाएगा,
तभी अमर तिरंगा आसमान में शान से लहराएगा।
तभी अमर तिरंगा आसमान में शान से लहराएगा।
यही है नयी राजनीति।

दिल्ली वालों ने जो कर दिखाया उसकी गूंज पूरे देश में सुनाई दे रही
सीएम केजरीवाल ने कहा दिल्ली वालों जो आपने कर दिखाया है इसकी गूँज आज पूरे देश में सुनाई दे रही है। आज देश के अलग अलग राज्यों में मोहल्ला क्लिनिक बन रहे हैं, अन्य राज्यों की सरकारें बिजली-पानी की कीमतें कम कर रही है, दिल्ली के सरकारी स्कूल अन्य सरकारों के लिए मॉडल स्कूल सिस्टम बन गए हैं। दिल्ली वालों ने आप लोगो ने कमाल तो कर दिया। अब पूरे देश मे आप लोगों का डंका बज रहा है। अब अगर इस देश के कोने में आज कोई नेता कहेगा कि चुनावों में बहुत पैसा लगता है इसलिए भ्रष्टाचार होता है, तो लोग उस नेता को कहंगे कि दिल्ली की तरफ देखो। अगर आपसे कोई नेता कहे कि स्कूल बनाने से वोट नहीं मिलते, तो उनसे कहना दिल्ली की तरफ देखो। अगर आपसे कोई नेता कहे कि अच्छी सड़कें बनने से उन्हें क्या फायदा, तो उनसे कहना दिल्ली की तरफ देखो। अगर आपसे कोई नेता कहे कि अच्छी स्वास्थ सुविधाएं- अच्छे अस्पताल बनाने से उन्हें क्या मिलेगा, तो उनसे कहना दिल्ली की तरफ देखो। अगर आपसे कोई नेता कहे कि लोगों को सस्ती बिजली -पानी जैसी मूलभूत सुविधाएं देकर क्या होगा, तो उनसे कहना दिल्ली की तरफ देखो। अगर कोई नेता आपसे कहे कि काम कि राजनीति नहीं जीत सकती, तो उनसे कहना दिल्ली कि तरफ देखो। ये दिल्ली है - यहाँ काम की राजनीति चलती भी है और जीतती भी है। अरविंद केजरीवाल ने कहा कुछ दिनों से ये चर्चा चल रही है कि बाकी के शपथ ग्रहण समारोह में तो बड़े -बड़े नेता आते हैं लेकिन हमने तो सिर्फ दिल्ली की जनता को बुलाया है। हम इन सब लोगों का बहुत सम्मान करते हैं,  लेकिन जिन लोगों ने हमें चुना है उनके बिना शपथ ग्रहण कैसे पूरा हो सकता है? आज मेरे साथ यहाँ कुछ बहुत ही महत्वपूर्ण लोग बैठे हैं, इन्ही से पूरी दिल्ली चलती है, ये दिल्ली के निर्माता हैं। आज दिल्ली के निर्माता हमारे दोनों तरह बैठे हैं। दिल्ली को कोई नेता नहीं चलता, दिल्ली को कोई डॉक्टर चलते, ऑटो वाले चलते हैं। दिल्ली को दिल्ली के रिक्शे वाले चलते हैं। दिल्ली को स्टूडेंट चालते हैं। दिल्ली को बस कंडक्टर चलते हैं। ड्राइवर चलते है। रेहड़ी पटरी वाले चलते हैं। जो लोगो को रोजगार देते हैं। यहाँ बैठे हैं विजय कुमार। आईआईटी दिल्ली में स्टूडेंट हैं। पश्चिम विहार में रहते हैं। इनके पिताजी टेलरिंग का काम करते हैं। इनका सपना थाआईआईटी में पढ़ना। आज दिल्ली सरकार की जय भीम योजना से इनका सपना पूरा हुआ है। अब ये इंजीनियर बन कर देश की सेवा करना चाहते हैं। देश का भविष्य विजय कुमार जैसे होनहार छात्र हैं, जो कल देश को आगे लेकर जाएंगे। ये दिल्ली के निर्माता हैं। दलबीर सिंह जी बैठे हैं यहाँ। नजफगढ़ से हैं। किसान हैं। पहले दिल्ली सरकार के स्कूल में पढ़ाते थे। रिटायरमेंट के बाद अपन धर्मपत्नी के साथ किसानी कर रहे हैं। दलबीर जी के खून में किसानी है। पहले दलबीर जी ने स्कूल में देश के भविष्य को तैयार किया और अब देश का पेट पालने के लिए किसानी कर रहे हैं। मैं कितना ही बड़ा हो लूँ, इनकी ऊंचाई कभी नहीं छू सकता। ये हैं असली दिल्ली के निर्माता। हमारे साथ यहाँ निधि गुप्ता जी बैठी हैं जो की एक मेट्रो पायलट हैं। निधि जी हर दिन आप सबको आपकी मंज़िल तक पहुँचाती है। निधि जी हैं असली दिल्ली की निर्माता।  हमारे साथ यहाँ साहसी अरुण कुमार जी बैठे हैं। अरुण जी एक बस मार्शल हैं। अरुण कुमार जी ने अपनी समझदारी और हिम्मत से पिछले साल बस में एक 6 साल की बच्ची को अगवा होने से बचाया और उस अपराधी को पुलिस स्टेशन पहुंचाया। अरुण जी की वजह से हमारे परिवार सुरक्षित हैं। अरुण जी हैं, असली दिल्ली के निर्माता। यहाँ सुमन जी बैठी हैं। सुमन जी के पति स्वर्गीय फायर फाइटर हरिओम गहलोत थे। 2017  में वेस्ट दिल्ली में एक सिलिंडर ब्लास्ट से एक भयंकर आग लगी थी। हरिओम जी ने बहादुरी दिखाते हुए दस लोगों की जान बचाई मगर खुद की जान खो बैठे। हरिओम जी जैसे लोगों की वजह से आज कितने ही लोग ज़िंदा हैं, अपने परिवार के साथ हैं। सुमन जी के परिवार की वजह से हमारी दिल्ली सुरक्षित है, हमारा राष्ट्र सुरक्षित है। सुमन जी के सामने हम जैसे नेता क्या हैं?  सुमन जी, मैं आज आपको पूरी दिल्ली की तरफ से आभार व्यक्त करता हूँ। सुमन जी हैं असली दिल्ली की निर्माता। नेता तो आते जाते रहेंगे मगर दिल्ली को चलाने वाले दिल्ली के ये निर्माता हैं जो आज हमारे साथ बैठे हैं। मैं दिल्ली के निर्माताओं का आशीर्वाद चाहता हूँ और वादा करता हूँ कि अगले पांच साल भी उनके साथ मिल कर दिल्ली को आगे ले जाता रहूँगा।आज से दिल्ली के मंत्री दिल्ली के निर्माताओं के साथ मिल कर दिल्ली को आगे ले जाएंगे। यही है नयी राजनीति।
 
प्रकृति में सभी अनमोल चीजें मुफ्त हैं
अरविंद केजरीवाल ने कहा चुनाव से पहले काफी चर्चा हो रही थी कि दिल्ली में लोगों को सरकार ये दे रही है, वो दे रही है। मैं कहता हूँ कि हमारे देश में जो चीज़ें सबसे ज़्यादा ख़ुशी मिलती है उनका कोई मूल्य नहीं होता। मैं आपसे पूछता हूँ,  एक बेटा जो अपनी माँ का इलाज करवाता है, उनकी सेवा करता है, क्या ये क्या ये इस बेटे की ज़िम्मेदारी नहीं है?  एक पिता अपने बच्चों के अच्छे भविष्य के लिए अपनी खुशियां तक कुर्बान कर देता है, क्या यह अपने परिवार की ज़िम्मेदारी नहीं है? एक भाई अपनी बहन के सपने पूरे करने के लिए जी-जान लगा देता है, क्या यह उस भाई की ज़िम्मेदारी नहीं है? आप भी मेरा परिवार हो, और परिवार का बड़ा बेटा होने के नाते आपकी ज़रूरतों का ख्याल रखना है,आप तक सुविधाएं पहुँचाना, अपनी ज़िन्दगी आसान बनाना ज़िम्मेदारी है। मैं जनता का पैसा जनता पर लुटा रहा हूँ। आपकी हर जरुरत को पूरा करना और उसके बाद भी, सरकार को मुनाफे में चलना। ये ही नयी राजनीति है। अगर स्कूल में शिक्षा, अस्पताल में इलाज का मैं पैसा लूं तो लानत है मुझपर। अरविंद केजरीवाल ने कहा मैं चाहता हूँ कि हमारे देश का डंका पूरी दुनिया में बजे। हमारे देश का डंका लंदन में सुनाई दे, टोक्यो में सुनाई दे, न्यूयॉर्क में सुनाई दे, पूरी दुनिया में सुनाई दे। आज पंजाब, हरियाणा के बच्चे चाहते हैं कि वो लंदन, अमेरिका में जा कर पढ़ाई करे मगर मैं हमारे देश को ऐसा बनाना चाहता हूँ कि लंदन अमेरिका के बच्चे बोले कि वो हमारे देश में पढ़ना चाहते हैं। मैं ऐसा देश बनाना चाहता हूँ कि लंदन, अमेरिका के लोग हमारे देश में नौकरी करने आये। मैं ऐसी देश बनाना चाहता हूँ कि दुनिया की बड़ी बड़ी बीमारियों का इलाज हमारे देश के छात्र,डॉक्टर्स और रिसर्चर्स ढूंढ निकालें।
 
हम होंगे कामयाब .. गाना गाकर सीएम अरविंद केजरीवाल ने खत्म किया संबोधन
हम होंगे कामयाब, हम होंगे कामयाब
हम होंगे कामयाब एक दिन
हो हो मन में है विश्वास
पूरा है विश्वास
हम होंगे कामयाब एक दिन
हम होंगे कामयाब, हम होंगे कामयाब
हम होंगे कामयाब एक दिन
हो हो मन में है विश्वास
पूरा है विश्वास
हम होंगे कामयाब एक दिन
 
होगी शान्ति चारों
होगी शान्ति चारों ओर
होगी शान्ति चारों ओर एक दिन
हो हो मन में है विश्वास
पूरा है विश्वास
होगी शान्ति चारों ओर एक दिन
 
हम होंगे कामयाब, हम होंगे कामयाब
हम होंगे कामयाब एक दिन
हो हो मन में है विश्वास
पूरा है विश्वास
हम होंगे कामयाब एक दिन
 
हम चलेंगे साथ साथ
डाले हाथों में हाथ
हम चलेंगे साथ साथ एक दिन
हो हो मन में है विश्वास
पूरा है विश्वास
हम चलेंगे साथ साथ एक दिन
 
हम होंगे कामयाब, हम होंगे कामयाब
हम होंगे कामयाब एक दिन
हो हो मन में है विश्वास
पूरा है विश्वास
हम होंगे कामयाब एक दिन
 
नहीं डर किसी का आज
नहीं भय किसी का आज
नहीं डर किसी का आज के दिन
हो हो मन में है विश्वास
पूरा है विश्वास
नहीं डर किसी का आज के दिन
हम होंगे कामयाब, हम होंगे कामयाब
हम होंगे कामयाब एक दिन
हो हो मन में है विश्वास
पूरा है विश्वास
हम होंगे कामयाब एक दिन
 
हम होंगे कामयाब, हम होंगे कामयाब
हम होंगे कामयाब एक दिन
हो हो मन में है विश्वास
पूरा है विश्वास
हम होंगे कामयाब एक दिन