इस्लामाबाद,पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान यूं तो आर्मी चीफ जनरल कमर जावेद बाजवा के एक्सटेंशन के लिए अध्यादेश पर अध्यादेश लाते हैं और कोर्ट कचहरी जाने से भी परहेज नहीं करते, लेकिन अब दावा कर रहे हैं कि वह पाक आर्मी से बिल्कुल नहीं डरते। उन्होंने यह बात पीएम हाउस में मीडियाकर्मियों से बातचीत के दौरान कही। उन्होंने शुक्रवार को कहा कि सेना अच्छी तरह से जानती है कि 'मैं न तो पैसा कमा रहा हूं और न ही भ्रष्ट हूं।'

'द न्यूज इंटरनैशनल' की रिपोर्ट के अनुसार, इमरान ने कहा कि हम दिन-रात मेहनत कर रहे हैं और इसलिए सेना से नहीं डरते। प्रधानमंत्री खान ने अपनी सरकार की स्थिरता पर बल देते हुए कहा कि वह कहीं नहीं जा रही है। उन्होंने कहा कि एजेंसियों को पता है कि कौन क्या कर रहा है और यही कारण है कि भ्रष्टाचार में लिप्त लोगों को सेना का डर था। पीटीआई चीफ ने कहा कि वह न तो भ्रष्ट हैं और न ही राजनीति कर पैसा कमा रहे हैं और यही कारण है कि सेना मेरे साथ खड़ी है। उन्होंने कहा कि सरकार और सेना के बीच कोई तनाव नहीं है।

अपने आवास पर मीडिया को बुलाकर इमरान सरकार ने विपक्षियों पर भी जमकर निशाना साधा। कार्यक्रम में मौजूद सूचना और प्रसारण मामलों के लिए उनकी विशेष सहायक डॉ. फिरदौस आशिक अवान ने कहा कि खुफिया एजेंसियों को नवाज शरीफ और आसिफ जरदारी के भ्रष्टाचार के बारे में पूरी तरह पता था और वे यह भी जानते हैं कि वह (इमरान खान) पैसा नहीं कमा रहे हैं, बल्कि देश के लिए दिन-रात मेहनत कर रहे हैं।