नई दिल्ली      ,                                       
तेजस एक्सप्रेस सोमवार एक घंटे से ज्यादा देरी से जंक्शन पहुंची। ट्रेन के एक घंटे से ज्यादा देरी से पहुंचने पर आईआरसीटीसी को 60,400 रुपये का झटका लग गया। ट्रेन में 604 यात्री सफर कर रहे थे। आईआरसीटीसी अधिकारियों के मुताबिक प्रत्येक यात्री को 100 रुपये रिफंड किया जाएगा।
नई दिल्ली से लखनऊ जंक्शन आते समय फिरोजाबाद के पास एक सांड़ आगे चल रही संपर्क क्रांति एक्सप्रेस के इंजन से टकरा गया। इस कारण संपर्क क्रांति एक्सप्रेस का इंजन फेल हो गया और ट्रेन खड़ी हो गई। वहीं, पीछे से आ रही तेजस एक्सप्रेस को भी रास्ते में खड़ा होना पड़ा। इसके बाद ट्रेन लखनऊ जंक्शन अपने निर्धारित समय रात के 10.05 की जगह एक घंटे 17 मिनट की देरी से 11.22 बजे पहुंची।
19 अक्तूबर को 950 यात्रियों को मिला था मुआवजा : चार अक्तूबर को तेजस को हरी झंडी दिखाने के बाद 18 अक्तूबर को कृषक एक्सप्रेस लखनऊ जंक्शन यार्ड पर डिरेल हो गई थी। इसके चलते तेजस अगले दिन चार घंटे देरी से नई दिल्ली रवाना हुई और देरी से पहुंची थी। वापसी में भी तेजस एक घंटे से अधिक देरी से लखनऊ जंक्शन आई थी। इसके चलते आईआरसीटीसी ने 950 यात्रियों को 1.62 लाख रुपये मुआवजा देना पड़ा था।