नई दिल्‍ली: राष्‍ट्रपति भवन में शाम 7 बजे नरेंद्र मोदी ने दूसरी बार प्रधानमंत्री पद की शपथ ली. राष्‍ट्रपत‍ि रामनाथ को‍व‍िंद ने उन्‍हें पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बाद राजनाथ स‍िंह ने पद और गोपनीयता की शपथ ली. वह मोदी मंत्र‍िमंडल में दूसरे नंबर पर होंगे. तीसरे नंबर पर बीजेपी अध्‍यक्ष अम‍ित शाह ने पद और गोपनीयता की शपथ ली. चौथे नंबर पर नागपुर से जीतकर आए निति‍न गडकरी ने शपथ ली.

नि‍तिन गडकरी के बाद कर्नाटक के वर‍िष्‍ठ नेता सदानंद गौड़ा ने कैब‍िनेट मंत्री पद की शपथ ली. उनके बाद अब तक रक्षामंत्री रहीं निर्मला सीतारमन ने पद और गाेपनीयता की शपथ ली. सातवें नंबर पर एलजेपी प्रमुख रामविलास  पासवान ने केंद्रीय मंत्री के रूप में शपथ ली.
रामव‍िलास पासवान के बाद मध्‍यप्रदेश की मुरैना सीट से जीतकर आने वाले बीजेपी नेता नरेंद्र सिंह तोमर ने पद और गोपनीयता की शपथ ली. इसके बाद पटना साह‍िब लोकसभा सीट से जीतने वाले रवि‍शंकर प्रसाद ने कैब‍ि‍नेट मंत्री पद की शपथ ली. वह 2014 में बनी एनडीए सरकार में कानून और सूचना मंत्री का पद संभाल चुके हैं. रव‍िशंकर प्रसाद के बाद अकाली दल की ओर से हरस‍िमरत कौर ने पद और गोपनीयता की शपथ ली. थावरचंद गहलोत ने कैब‍िनेट मंत्री पद की शपथ ली.

थावरचंद गहलोत के बाद एस जयशंकर ने कैब‍िनेट मंत्री के तौर पर शपथ ली. उनका नाम इस मंत्रि‍मंडल में सबसे चौंकाने वाला रहा. एस जयशंकर के बाद उत्‍तराखंड के पूर्व मुख्‍यमंत्री रमेश पोखर‍ियाल ने कैबि‍नेट मंत्री के तौर पर पद और गोपनीयता की शपथ ली. रमेश पोखर‍ियाल के बाद झारखंड के पूर्व मुख्‍यमंत्री अर्जुन मुंडा ने पद और गोपनीयता की शपथ ली. अर्जुन मुंडा के बाद स्‍मृत‍ि ईरानी ने कैब‍िनेट मंत्री के तौर पर पद और गोपनीयता की शपथ ली. 

चांदनी चौक से जीतने वाले बीजेपी के डॉ. हर्षवर्धन ने भी कैब‍िनेट मंत्री के तौर पर पद और गोपनीयता की शपथ ली. पिछली सरकार में केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री रहे प्रकाश जावडेकर ने कैबिनेट मंत्री के तौर पर पद और गोपनीयता की शपथ ली. प्रकाश जावड़ेकर के बाद पीयूष गोयल ने कैब‍िनेट मंत्री के तौर पर शपथ ली. इसके बाद पेट्रोल‍ियम मंत्री रहे धर्मेंद्र प्रधान ने पद और गोपनीयता की शपथ ली. धर्मेंद्र प्रधान के बाद मुख्‍तार अब्‍बास नकवी ने कैब‍िनेट मंत्री के तौर पर शपथ ली.
इससे पहले जेडीयू की ओर से बयान आया है कि वह सरकार में शामिल नहीं होगी. सूत्रों के हवाले से कहा जा रहा है कि मंत्र‍िमंडल में एक ही पद मिलने से वह खुश नहीं है. इस बीच राष्‍ट्रपत‍ि भवन में मेहमानों के पहुंचने का सिलसि‍ला शुरू हो गया है.

2014 की एनडीए सरकार में विदेश मंत्री रहीं सुषमा स्‍वराज इस बार मंत्री पद की शपथ नहीं लेंगी. वह मेहमानों के साथ बैठी हैं. मोदी मंत्र‍िमंडल में 48 मंत्री शपथ लेंगे. पीएम मोदी के बाद दूसरे नंबर पर राजनाथ सि‍ंह शपथ  लेंगे. उनके बाद तीसरे नंबर पर अम‍ित शाह शपथ लेंगे. नि‍त‍िन गडकरी चौथे नंबर पर पद और गोपनीयता की शपथ लेंगे.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने आवास 7 लोक कल्‍याण मार्ग पर संभावित मंत्र‍ियों से मुलाकात कर रहे हैं. इसके बाद सभी सांसद शपथ ग्रहण के लिए राष्‍ट्रपति भवन पहुंचेंंगे. शिमला की हमीरपुर सीट से सांसद अनुराग शुक्‍ला ने भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की. अनुराग ठाकुर भी केंद्र में मंत्री पद की शपथ ले सकते हैं. वह 2014 में बनी एनडीए सरकार में मंत्री नहीं थे. उन्‍हें पहली बार केंद्र में मंत्री बनने का मौका मिलेगा.


अमित शाह को कौन सा मंत्रालय
अमित शाह को कौन सा मंत्रालय मिलेगा अभी इस पर अटकलें तेज हैं. कहा जा रहा है कि उन्‍हें गृह मंत्रालय या वित्‍त मंत्रालय की जिम्‍मेदारी सौंपी जा सकती है. अरुण जेटली के मना करने के बाद वित्‍तमंत्री कौन होगा, ये सबसे बड़ा सवाल है. अगर अमित शाह गृह मंत्री बने तो राजनाथ सि‍ंह की जिम्‍मेदारी बदल सकती है.


राष्‍ट्रपति भवन में 6000 से ज्‍यादा मेहमान करेंगे शिरकत
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के शपथ ग्रहण समारोह में देश दुनिया के करीब 6000 से ज्‍यादा मेहमान श‍िरकत कर रहे हैं. इसमें बिम्‍सटेक देशों के 4 राष्‍ट्रपति और 3 देशों के प्रधानमंत्री भी पहुंचे हैं. राजनीतिक ह‍स्‍त‍ियों के अलावा खेल जगत और मनोरंजन जगत की हस्‍त‍ियां भी पहुंच रही हैं. इनमें सुपरस्‍टार रजनीकांत, कमल हासन, कंगना रनौत, अनिल कपूर, विवेक ओबेरॉय के नाम शामिल हैं.