इन्दौर । भारत सरकार के इलेक्ट्रानिकी एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय के इंदौर स्थित साफ्टवेयर टेक्नालाजी पार्क्स आफ इंडिया (एस.टी.पी.आई.) में आज हिंदी कार्यशाला आयोजित की गई. कार्यशाला में इंदौर के अलावा ग्वालियर और भोपाल स्थित कार्यालय के अधिकारियों और कर्मचारियों ने वीडियो कांफ्रेन्सिंग के जरिये भाग लिया। कार्यशाला का शुभारम्भ करते हुये अपर निदेशक श्री रवि वर्मा ने कहा कि संचार क्रांति के कारण अब हिंदी का वैश्विक स्वरूप दिखाई देने लगा है। हिंदी में कार्य करना अब अधिक आसान हो गया है।
कार्यशाला के मुख्य वक्ता क्षेत्रीय लोक सम्पर्क ब्यूरो के सहायक निदेशक मधुकर पवार बताया कि राजभाषा विभाग ने हिंदी में कार्य करने के लिये युनिकोड अनिवार्य कर दिया है। सभी कम्प्यूटर द्विभाषी होने चाहिये। हिंदी प्रदेशों में पत्राचार शत प्रतिशत का लक्ष्य रखा गया है। पवार ने कम्प्यूटर में हिंदी में आसानी से कार्य करने के बारे में जानकारी दी तथा प्रतिभागियों की शंकाओं का समाधान किया। उन्होने इंदौर कार्यालय के सभी अधिकारियों और कर्मचारियों से अपील की कि वे रविवार, 19 मई को लोकसभा के चुनाव में अपने मताधिकार का उपयोग जरूर करें। पवार ने बताया कि वे वोटर हेल्पलाईन एप के जरिये अपने मतदान केंद्र के बारे में जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। संयुक्त निदेशक श्री मेहदी अब्बास ने संचालन किया। हिंदी अनुभाग के स्वप्निल ने आभार माना।