अहमदाबाद | बहुराष्ट्रीय कंपनी पेप्सिको ने गुजरात के चार आलू किसानों के खिलाफ दायर मुकदमा वापस ले लिया है| पेप्सिको ने किसानों पर आलू की एक खास किस्म उगाने का आरोप लगाया था, जिसे कंपनी ने पेटेंट करा रखा है| 
दरअसल अमेरिकी कंपनी पेप्सिको ने उत्तरी गुजरात के चार किसानों पर उसके द्वारा पेटेंट एक खास किस्म के आलू के बीज का इस्तेमाल कर फसल को बाजार में बेचने का आरोप लगाया था| कंपनी ने इस मामले में कमर्शियल कोर्ट के जज एमसी त्यागी के पास याचिका दायर की थी कि इन किसानों ने एफसी-5 टाइप आलू की किस्म का अवैध तरीके से इस्तेमाल किया है|  पेप्सिको ने इसी पैटर्न के आलू उगाने को लेकर हर किसान से 1-1 करोड़ रुपये मुआवजे की मांग की थी| पेप्सिको ने चार किसानों पर एफ 2027 या एफसी 5 किस्म के आलू उगाने का मुकदमा दायर किया था, जिसके लिए उन्होंने प्लांट वेरायटी प्रोटेक्शन अधिकारों का दावा किया है| हांलाकि अब पेप्सिको ने गुजरात के आलू किसानों के खिलाफ मुकद्दमा वापस लेने का फैसला कर लिया है|
पेप्सिको के मुताबिक किसानों के बड़े हित की रक्षा के लिए, पेप्सिको इंडिया को अपनी पंजीकृत विविधता की रक्षा के लिए न्यायिक सहारा लेने के लिए मजबूर होना पड़ा था| शुरू से ही पेप्सिको ने किसानों को एक मैत्रीपूर्ण समाधान देने की पेशकश की थी| सरकार के साथ चर्चा के बाद कंपनी ने किसानों के खिलाफ मामलों को वापस लेने पर सहमति व्यक्त की है|