न्यूयॉर्क, अमेरिका ने इमरान खान के पाकिस्तान का नया प्रधानमंत्री बनने का स्वागत करते हुए देश एवं क्षेत्र में शांति एवं समृद्धि को बढ़ावा देने के लिए पाकिस्तान की नई असैन्य सरकार के साथ काम करने की इच्छा जताई है। 

इस्लामाबाद में कल एक साधारण समारोह में 65 वर्षीय इमरान खान ने पाकिस्तान के 22वें प्रधानमंत्री के तौर पर शपथ ली। 

विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता हीथर नोर्ट ने एक बयान में कहा, “पाकिस्तान के नव निर्वाचित प्रधानमंत्री इमरान खान के पद संभालने का हम स्वागत करते हैं और इसे स्वीकार करते हैं।

बयान में कहा गया कि करीब 70 सालों से अमेरिका और पाकिस्तान का रिशता महत्त्वपूर्ण रहा है। 

पाकिस्तान और अमेरिका के संबंधों में उस वक्त खटास आ गई थी जब अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने पाकिस्तान पर अमेरिका को “सिवाए झूठ और धोखे के” कुछ नहीं देने और आतंकवादियों को सुरक्षित पनाहगाह मुहैया कराने के आरोप लगाए थे।

अमेरिका की कांग्रेस (संसद) ने पाकिस्तान को दी जाने वाली रक्षा सहायता राशि में कटौती कर उसे 15 करोड़ कर देने के लिए एक विधेयक भी पारित किया था जो प्रत्येक साल मिलने वाली एक अरब डॉलर से ज्यादा की राशि के ऐतिहासिक स्तर से काफी नीचे थी। 

बयान में कहा गया, “पाकिस्तान में और क्षेत्र में शांति एवं समृद्धि को बढ़ावा देने के लिए अमेरिका, पाकिस्तान की नई असैन्य सरकार के साथ काम करने को लेकर इच्छुक है।”

इस बीच, संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुतारेस के प्रवक्ता स्टीफन दुजारिक ने खान को पाकिस्तान का प्रधानमंत्री बनने की बधाई दी। 

दुजारिक ने कहा, “महासचिव और संयुक्त राष्ट्र व्यवस्था पाकिस्तान के नए प्रधानमंत्री खान के साथ काम करने को लेकर इच्छुक है।”